अतीक और अशरफ अहमद की हत्या | Atiq Ahmed and Ashraf’s Murder

प्रयागराज में माफिया अतीक अहमद और उसके भाई अशरफ अहमद को पुलिस और मीडिया के सामने गोलियों से भूनकर हत्या कर दी गई थी | पुलिस दोनों भाइयो के मेडिकल टेस्ट के लिए हॉस्पिटल ले केर जा रहे थे तभी अचानक मीडिया के भेस में 3 हमलावरों ने एक दम से पिस्टल से फायरिंग शुरू कर दी जिससे दोनों की मोके पर ही मौत हो गई | हमले के तुरंत बाद तीनो ने हत्यारों ने पुलिस के सामने समर्पण कर दिया जिसके बाद उन्हें गिरफ्तार किया गया और बाद में उन्हें अदालत में पेश किया गया | अभी इन तीनो हत्यारों को न्यायिक हिरासत में प्रतापगढ़ की जिला जेल शिफ्ट कर दिया गया है और अभी पूछताछ जारी है और पुलिस का कहना है कि वो इन तीनों हमलवरों की कोर्ट से रिमांड की मांग करेगी |

atik ahmed shootout video
पुलिस दोनों को मेडिकल टेस्ट के लिए उत्तरप्रदेश के प्रयागराज स्तिथ मेडिकल कॉलेज लेकर पहुंची थी, जहां पर दोनों भाइयो को तिन हत्यारों ने गोली मार दी  | पुलिस जाचं के बाद पता चला अतीक अहमद को  8 और अशरफ  को 6 के आस-पास गोलियां लगीं है और सटीक जानकारी पोस्ट मार्टम में साफ़ होगा | पुलिस का कहना है हत्या इन्होने क्यु की की या इसके पीछे कोन है वो सब बाद में तीनो हत्यारों से पूछताछ में खुलासा होगा |

क्या है पूरा मामला ?

उत्तर प्रदेश के प्रयागराज में 24 फरवरी 2023 को उमेश पाल कोर्ट से अपने घर वापस लोटे थे जो की राजू पाल हत्याकांड में मुख्य गवाह थे जिसमे अतीक अहमद मुख्य आरोपी है और उमेश पाल जैसे ही कोर्ट से अपने घर पहुचे थे तो उनके घर के सामने ही उन्हें अतीक अहमद के पुत्र असद अहमद और उनकी गैंग के कुछ और अपराधियों ने घेरकर मार दिया गया था | जिसकी CCTV फुटेज भी सामने आई थी जिसमे असद अहमद, गुड्डू मुस्लिम, गुलाम और कुछ अपराधी भी देखे गए | गुलाम उस वक्त पहले से ही उमेश के घर के पास ही एक इलेक्ट्रिशियन की दुकान में मौजूद था और बाकी कुछ अपराधी भी घात लगाये बेठे थे और गुलाम पहले से इलेक्ट्रिशियन शॉप पर दुकानदार से ग्राहक बनकर कुछ सामान निकलवाता है इसी बीच जैसे ही उमेश पाल की गाड़ी वहां पहुंचती है और उस पर पहला फायर होता है तभी गुलाम दुकान से बाहर तेजी से निकलता है और उमेश पर गोलियां बरसाने लगता है | उमेश पाल की हत्या के बाद से ही ये दोनों और बाकी अपराधी भी फरार थे | UP STF को तभी से इनकी तलाश थी और इनके ऊपर पुलिस की ओर से 5-5 लाख रुपये का इनाम घोषित किया गया था | पिछले दिनों यूपी एसटीएफ इनकी तलाश में दिल्ली भी पहुंची थी, जिसके बाद उनकी लोकेशन झांसी में होने की सूचना मिली थी जिसके बाद 13 अप्रैल 2023 को UP STF किए टीम ने इन दोनों की घेराबंदी की और मुडभेड में दोनों का एनकाउंटर हुआ |

इसी मामले में अतीक अहमद के बेटे असद अहमद का एनकाउंटर हो चूका है |

उत्तर प्रदेश के प्रयागराज में 24 फरवरी 2023 को उमेश पाल कोर्ट से अपने घर वापस लोटे थे जो की राजू पाल हत्याकांड में मुख्य गवाह थे जिसमे अतीक अहमद मुख्य आरोपी है और उमेश पाल जैसे ही कोर्ट से अपने घर पहुचे थे तो उनके घर के सामने ही उन्हें अतीक अहमद के पुत्र असद अहमद और उनकी गैंग के कुछ और अपराधियों ने घेरकर मार दिया गया था | जिसकी CCTV फुटेज भी सामने आई थी जिसमे असद अहमद, गुड्डू मुस्लिम, गुलाम और कुछ अपराधी भी देखे गए | गुलाम उस वक्त पहले से ही उमेश के घर के पास ही एक इलेक्ट्रिशियन की दुकान में मौजूद था और बाकी कुछ अपराधी भी घात लगाये बेठे थे और गुलाम पहले से इलेक्ट्रिशियन शॉप पर दुकानदार से ग्राहक बनकर कुछ सामान निकलवाता है इसी बीच जैसे ही उमेश पाल की गाड़ी वहां पहुंचती है और उस पर पहला फायर होता है तभी गुलाम दुकान से बाहर तेजी से निकलता है और उमेश पर गोलियां बरसाने लगता है | उमेश पाल की हत्या के बाद से ही ये दोनों और बाकी अपराधी भी फरार थे | UP STF को तभी से इनकी तलाश थी और इनके ऊपर पुलिस की ओर से 5-5 लाख रुपये का इनाम घोषित किया गया था | पिछले दिनों यूपी एसटीएफ इनकी तलाश में दिल्ली भी पहुंची थी, जिसके बाद उनकी लोकेशन झांसी में होने की सूचना मिली थी जिसके बाद 13 अप्रैल 2023 को UP STF किए टीम ने इन दोनों की घेराबंदी की और मुडभेड में दोनों का एनकाउंटर हुआ |

asad encounter photos

अतीक अहमद और बेटे असद अहमद के बारे में और भी ज्यादा जानना है तो इस पोस्ट को भी पढ़े …

Please follow and like us: